केन्द्रीय बजट आत्म-निर्भर भारत के निर्माण का बजट सिद्ध होगा

0
30
केन्द्रीय बजट आत्म-निर्भर भारत के निर्माण का बजट सिद्ध होगा

केन्द्रीय बजट आत्म-निर्भर भारत के निर्माण का बजट सिद्ध होगा

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने केन्द्रीय बजट को वैभवशाली, समृद्ध और सशक्त भारत के निर्माण के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की जिद, जुनून और जज्बे का प्रतीक बताया है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना काल की कठिन परिस्थितियों के बीच प्रस्तुत केन्द्रीय बजट आत्म-निर्भर भारत के निर्माण का बजट सिद्ध होगा।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी आपदा को अवसर में बदलना जानते हैं। यह बजट अर्थ-व्यवस्था को ट्रांसफार्म करने वाला मानवीय बजट है।

इसमें सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है। समाज का गरीब वर्ग हो या किसान, महिला सशक्तीकरण हो या नौजवानों के लिए रोजगार के नए अवसर सृजित करने का विषय हो, केन्द्रीय बजट में सभी पहलु को समाहित किया गया है।

स्वास्थ्य के लिए बजट में हुई 137 प्रतिशत की वृद्धि

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कठिन परिस्थितियों में 34 लाख 80 हजार करोड़ रूपए का बजट प्रस्तुत किया गया है।

बजट में प्रधानमंत्री आत्म-निर्भर स्वस्थ भारत योजना आरंभ करने का उल्लेख है।

इसके लिए 34 हजार करोड़ रूपए का प्रावधान है। कोरोना वैक्सीन के लिए भी 35 हजार करोड़ रूपए का प्रावधान है। स्वास्थ्य की दृष्टि से केन्द्रीय बजट में 02 लाख 23 हजार 846 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। इस तरह स्वास्थ्य के लिए बजट में 137 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की गई है।

अधोसंरचना निर्माण में बढ़ेगा राज्यों का योगदान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बजट में अधोसंरचना विकास के लिए 05 लाख 50 हजार करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। पूंजीगत व्यय से तेजी से आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ेंगी और रोजगार के नए अवसरों का सृजन होगा। वित्तीय विकास संस्थान का गठन भी आर्थिक गतिविधियों को गति देगा।

इससे पूंजीगत योजनाओं के लिए दीर्घकालीन ऋणों की व्यवस्था हो सकेगी।

सात नए टेक्सटाइल पार्क से रोजगार के नए अवसर सृजित होंगे।

केन्द्रीय बजट में राज्यों को सकल घरेलू उत्पाद के 04 प्रतिशत तक उधार की सीमा बढ़ाई गई है। इससे अधोसंरचना निर्माण में राज्यों का योगदान बढ़ेगा और आर्थिक गतिविधियों में तेजी आएगी। इससे मध्यप्रदेश में ही 13 हजार करोड़ रूपए के अतिरिक्त पूंजीगत कार्य आरंभ किए जा सकेंगे।

आयकर रिटर्न में छूट, बुर्जुगों के लिए वरदान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगाँठ पर 75 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों को आयकर रिटर्न भरने से छूट को बुर्जुगों के लिए वरदान बताया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उज्जवला योजना में एक करोड़ नए परिवारों को सम्मिलित किया जाएगा।

मध्यप्रदेश में 08 लाख गैस कनेक्शन हमारी माताओं-बहनों को मिलेंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि केन्द्रीय बजट में जनजातीय क्षेत्रों में नए विद्यालय प्रारंभ करना और देशभर में 100 नए सैनिक स्कूल खोलने से स्कूल शिक्षा के क्षेत्र में क्रांति आएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केन्द्रीय बजट को गौरवशाली और सम्पन्न राष्ट्र के निर्माण का माध्यम बताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here